Google+ Badge

Sunday, 26 November 2017

ऐ मुसलमान

ऐ मुसलमान रमजान के ऐसे पाक़ महीने में तो गुनाहों से तौबा कर ले

शीरीं मंसूरी “तस्कीन”

No comments:

Post a Comment